गोद मा रही गा हन्ना गांव

नाली नहीं बनी आये

पिछले चार साल से बांदा चित्रकूट सांसद भैरों प्रसाद मिश्र हन्ना गांव का  गोद लिहिन रहैं अउर बड़े-बड़े वादा करिन रहैं कि हन्ना मा हरतान का विकास होइ   मड़इन का कउनौ काम खातिर भटकै का ना पड़ी। पै गांव के मड़इ गोद लीने के पहिले परेशान रहैं अउर आज भी परेशान हवैं।
चार साल मा सांसद हन्ना गांव मा दुई दरकी बैइठक करिन हवै अउर मडइन का भरोसा दिहिन कि जल्दी गांव का विकास होई। पै कबै अब तौ चुनाव का समय भी आवत हवै?
गांव के मड़इन के बाते सुन-सुनकर पत्रकार भी परेशान होइगे। देख के लागत हवै कि गोद लीने गांव से तौ नींक बिना गोद वाले गांव हवैं। कम से कम सड़क बिजली पानी सब के सुविधा तौ हवै।हन्ना मा तौ कहे का हैंडपंप तीस लाग हवै। पै चरही कउनौ मा नहीं बनी। चरही के बात छोड़ो पानी नहीं निकरत आय। बिजली कटौती से मड़ई बेहाल हवै।

 

आज तक नहीं बनें आही आवास

सड़क तौ आज तक गांव के नहीं बनी आय। गांव के कुछ लोगन का कहब हवै कि सांसद हमरे गांव का गोद से नहीं उतार पाइस यहै से गांव विकलांग बन के रहिगा हवै। गांव मा सत्रह तालाब मा एकौ मा सुन्दरीकरण नहीं आय। कसत का गोद लीन गांव हवै।
सांसद कहब हवै कि विकास होइ। मड़इ तौ एक दिन मा चाहत हवै सब होई जाये। मोरे लगे एक काम बस नहीं आय। सोचे वाली बात हवै कि फेर काहे सांसद गोद लिहिस गांव का? आपन वाहवाही तौ लुटे मा लाग रहत हवै ,पै गांव के मड़इ विकास खातिर भटकत रहत हवैं।