‘गुप्त रोग पर खुलकर बोल’ ऐसा कहना हैं फैजाबाद जिले के लछमनपुर गांव की महिलाओं का

ल्यूकोरिया यानी सफेद पानी कै बिमारी आज आम समस्या होइगे बाय । पर समय रहते इलाज ना होये तौ ई घातक बिमारी मा बदल सकाथै। फैजाबाद जिला के ब्लाक मया गांव लक्ष्मनपुर के मेहरारुन से जाना जाय कि उनके सब केतना जागरूक अहैं ल्यूकोरिया के बारे मा।
संगीता कै कहब बाय कि जब हमार शादी नाय भए रही तबै से हमरे ल्यूकोरिया कै बिमारी बाय। खरखोदवा कै दवाई करायन लकिन आराम नाय भए। पुष्पा पाण्डेय बताइन कि जब तक शरीर तंदुरुस्त रहाथै तब तक यहि बिमारी कै पता नाय चलत जैसे कमजोरी आवाथै सफेद पानी गिरै लागाथै। योनि से सम्बन्धित रोग हुवय के कारण मेहरारू इलाज नाय करउतिन। प्रीती यादव कै कहब बाय कि चाहे अंदरूनी बिमारी हुवय या कउनौ अउर घर मा केहू से छिपावय का नाय चाही।
डा. ममता चौधरी चिकित्सा अधिकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बताइन कि गांव मा मेहरारु अक्सर कपड़ा इस्तेमाल कराथिन। इन्फेक्शन के वजह से ल्यूकोरिया बीमारी होय जाथै। जवन बहुत लम्बे समय तक चलाथै।
अगर पेट मा दर्द, कमर दर्द, भूख कम लगना, हाथ पैर मा दर्द हुवय तौ समझ लिया कि आपके ल्यूकोरिया बिमारी बाय। घात पैर अउर कमर मा दर्द, पिंडली मा खिंचाव योनि अउर वकरे आसपास खुजली, शरीर मा कमजोरी व थकान के साथ चक्कर आना ई सब ल्यूकोरिया कै लक्षण आय।जउने मेहरारू मा ई सब लक्षण मिलै उनके सबका प्रोटीन अउर खून कै मात्रा बढ़ावै का चाही। देहात मा खून बढ़ावै कै सबसे आसान तरीका गुड़ अउर चना अउर हरी साग-सब्जी खाय जेसे आयरन कै कमी दूर होय जाथै अउर गांव मा आसानी से मिल भी जाथै।

रिपोर्टर-कुमकुम

Published on Feb 1, 2018