गुजरात में मूंछों को लेकर हुए दलितों पर हमले, मिस्टर दलित बना व्हाट्स एप्प पर

गुजरात में दलितों पर लगातार हमले जारी हैं। सूत्रों के अनुसार, 3 अक्टूबर को गांधीनगर के एक गांव में एक 17 साल के दलित युवक पर कथित रूप से ऊंची जाति लोगों ने चाकू से हमला कर दिया।
वह परीक्षा देकर स्कूल से वापस रहा था, तभी उस पर हमला किया गया।  उस पर 25 सितंबर को भी हमला किया गया था। उस दिन वह पीयूष परमार के साथ था जिस पर मूंछ रखने के चलते ही हमला किए जाने का आरोप है।
परमार पर हमले के बाद 27 सितंबर को पुलिस में एफ़आईआर दर्ज कराई गई थी। इसके दो दिन बाद 29 सितंबर को एक और दलित युवक कुणाल महेरिया पर हमला किया गया।  बताया जा रहा है कि यह हमला भी मूंछ को लेकर हुआ।
अगले दिन शिकायत दर्ज कराई गई। 3 अक्टूबर को हुए तीसरे हमले में घायल युवक की बड़ी बहन ने बताया कि युवक काफ़ी दर्द में है और उसे सात टांके लगाए गए हैं।
आपको बता दें की इन बढ़ते हमलों के विरोध में, ‘मिस्टर दलित’ नाम से गुजरात में एक व्हाट्स ऐप्प ग्रूप भी शुरू किया गया है। इस ग्रूप के सदस्यों का कहना है की वे मूछ को अपनी शान मानेंगे, और उसे किसी एक जाती से जुड़ाव का विरोध करेंगे।