गीता के श्लोक पढ़ने वाली मुस्लिम लड़की के खिलाफ जारी हुआ फतवा

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

कृष्ण की वेशभूषा में गीता श्लोक का पाठ करने वाली आलिया खान के खिलाफ उलेमाओं ने फतवा जारी किया है।
पिछले महीने यूपी में हुए श्रीमद्भागवत गीता के संस्कृत श्लोक गायन की प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिता में आलिया को दूसरा स्थान मिला था। उसे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सम्मानित भी किया था।
जिसके बाद दारुल उलूम देवबंद ने आलिया के खिलाफ फतवा जारी करते हुए कहा है कि गीता का श्लोक पढ़ना इस्लाम के खिलाफ है।
इससे पहले दारुल उलूम के ऑनलाइन फतवा विभाग के चेयरमैन मुफ्ती अरशद फारुकी ने भी इसे इस्लाम विरोधी बताया था। उन्होंने कहा था कि मुसलमानों को गीता के श्लोक पढ़ना और श्रीकृष्ण का रूप धारण करने की इस्लाम इजाजत नहीं देता।
इस पर तो टूक जवाब देते हुए आलिया ने कहा, “मैंने कृष्ण की वेशभूषा धारण की। प्रतियोगिता का हिस्सा बनकर गीता पाठ किया। इस्लाम इतना कमजोर नहीं है कि उसे इस्लाम से निकाल दिया जाए। वो भी सिर्फ इसलिए कि मैंने वेशभूषा धारण करके गीता का पाठ किया। उन्होंने फतवा जारी किया है, लेकिन मैं अनुरोध करती हूं कि मुझे राजनीति में घसीटा जाए।