गांव से प्रखण्ड आवे में भी खर्चा

सरोज देवी
सरोज देवी

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड बथनाहा, पंचायत सहवाजपुर शितलपट्टी, गांव डिहठी। इहां के जगत पासवान के मरला लगभग एक साल हो गेलई लेकिन उनकर मृत्यू प्रमाण-पत्र आई तक बनलई।
उनकर पत्नी सरोज देवी कहलथिन कि हमर घर वाला के मरला साल भर हो गेल लेकिन मृत्यू प्रमाण-पत्र न बनलक। प्रखण्ड से सब काम हो गेल लेकिन पंचायत सेवक के हस्ताक्षर न भेल जेई कारण मृत्यू प्रमाण-पत्र अधूरा हई। पंचायत सेवक फोन से प्रखण्ड में आवे ला कहले रहथिन। हम अईली लेकिन पंचायत सेवक न आयल रहथिन। पांच बच्चा नादाने हय। घर चलावेला, खाना, कपड़ा ला दिन-रात सोचईत रहई छी। लेकिन प्रखण्ड में बार-बार आवे-जाये में पचास रूपईया लाग जाईय।
पंचायत सेवक कहलथिन कि हमरा पास उनकर आवेदन न आयल हई। मृत्यू प्रमाण-पत्र के लेल कोई बात न हई। उ जल्दीये बन जतई। हम प्रखण्ड में जाके हस्ताक्षर कर देबई।