गलत सर्वे सुधार के कीन गे मांग

Dadhvamanpurजिला बांदा, ब्लाक नरैनी, गांव डढ़वामानपुर का मजरा फतेहगंज। हेंया के मड़ई 21 अक्टूबर का अतर्रा तहसील मा आर्थिक जातिगत जनगणना के सर्वे के खिलाफ दरखास दइके नियाव के मांग करिन।
लल्लू कहिस-“मैं बहुतै गरीब हौं, पै सर्वे फारम मा मोरे नाम एक मोटर साइकिल अउर खेती लिखा गा है।“ बाबू, देशराज अउर तिजोला कहिन कि हम मजदूरी से घर चलाइत है। सर्वे फारम मा सौ-सौ बिगहा खेती, पांच-पांच हजार रूपिया महीना के आमदनी लिखी गे है। प्रधान शान्ती का लड़का लाला कहिस कि नब्बे प्रतिशत इनतान से फारम गलत भरे गे हैं।
बी.एल.ओ. ओम प्रकाश कहिन कि मैं नींकतान से फारम भरे हौं, पै जबै कम्प्यूटर मा रिकार्ड चढ़ावा गा है तौ गलत कई दीन गा है। अब मड़ई तहसील मा शिकाइत कइके सुधरवा सकत हैं।
अतर्रा तहसीलदार राजेन्द्र पाण्डेय कहिन कि अगर उनके सर्वे फारम गलत हैं तौ तहसील मा शिकाइत करैं। यहै सुधार करैं खातिर लोगन का फारम दीन गा है। शिकाइत करैं के तारीख बढ़ सकत है।

2010 मा आर्थिक जातिगत जनगणना भे रहै। घर-घर जा के बी.एल.ओ. सबके सर्वे फारम भरिन रहैं। उंई सर्वे फारमन का मड़इन का दुबारा देखैं खाातिर घर-घर पहुंचावा गा। शर्त या रहै कि जेहिके फारम गलत हैं तौ 18 अक्टूबर तक तहसील मा शिकाइत कइके
सुधार करवा लें। फतेहगंज मा तौ 19 अक्टूबर का फारम दीन गें तौ शिकाइत करे का होई। काहे से तारीख तौ निकल चुकी है।