गलत बिल भेजैं के शिकाइत

jyada aate bijli bilजिला बांदा, ब्लाक अउर कस्बा अतर्रा, मोहल्ला सुभाष नगर। हेंया का रामकुमार गलत बिजली का बिल भेजैं के दरखास अतर्रा बिजली विभाग मा 28 मई का दिहिस है। कइयौ दरकी शिकाइत करैं के बाद भी कारवाही नहीं कीन गे आय।

रामकुमार का कहब है, ‘मोरे घर मा आठ साल पहिले लीन गा एक किलोवाट का बिजली का कनेक्शन है, पै विभाग मनमानी से हर महीना बिल भेज देत है। गलत बिल भेजौं के शिकाइत मैं तहसील दिवस नरैनी मा कइयौ दरकी करे हौं। या मारे लोगन सुधरवा के 22 मार्च 2015 मा तेइस सौ अउर तेरह सौ सत्रह रुपिया जमा कइके समस्या सुलझा दीन गे रहै। यहिके बाद भी अब फेर से 28 मई 2015 का बारह हजार सात सौ अट्ठाइस रुपिया का बिल आवा है। मैं फर्जी बिल काहे भरौं? विभाग के ऊपर कारवाही होय का चाही।’

नरैनी बिजली विभाग का जे.ई. अफजल हुसैन कहिन कि तीन सौ दस यूनिट बिजली खर्च होय मा पन्द्रह सौ रुपिया का बिल बनत है। अगर रामकुमार का बिल ज्यादा भेजा गा है तौ मोहिका देखावै। मैं कारवाही करैं के जिम्मेदारी लेत हौं।