अपनी मौत के लिए औरत ही ज़िम्मेदार – चित्रकूट के मानिकपुर ब्लाक में कुल्हाड़ी से हुई रतिया की हत्या

चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गाव सकरौहां 14 अप्रैल का रतिया का वहिकर देवर कुनका कुल्हाड़ी से काट के जान से मार डालिस हवै। रतिया के बिटिया कहत हवै कि चाचा के साथै खाना अउर बच्चन के कारन हमेशा लड़ाई होत रहै।
कुनका के मेहरिया बतावत हवै कि रतिया के जान ग लत सम्बन्ध के कारन भे हवै। पुलिस या घटना का घरेलू मामला बतावत हवै। दोष मेहरिया के ऊपर थोपा जात हवै। का मेहरियन के जान के यहै हवै कि कउनौ मामूली बात वहिका कीमत जान से मार डाला जात हवै। रतिया के बिटिया रेशमा बताइस कि मोर महतारी भइया का डाटत रहै कि घर मा रोज रोज खाना बनवा लेत हवै अउर चाचा के हिंया से खा के आ जात हवै। देवरानी सोनी का कहब हवै कि हमार झगड़ा हमेशा होत रहत रहै। 2-3 साल से मोर जेठनी चाल चलन ठीक नहीं रहत रहै लड़का बड़ा होय गा रहै तौ सब देखत रहै। जबै घटना भे तौ अंधेरा रहा हवै बिजली नहीं रहि आय मैं खाना बनावत रहिहौं।
दामाद मुकेश का कहब हवै कि लड़का चाचा के हिंया खाना खात रहै यहै कारन रतिया का गुस्सा लागत रहै। तौ वा चिल्लात रहै। तबै वहिकर देवर वहिका कुल्हाड़ी से मार डालिस हवै। पहिले कमर मा मारिस हवै जबै भाग के बाहर गिर गे हवै तौ गर्दन मा तीन चार दरकी मारिस हवै यहै कारन वहिके जान चली गे हवै।
मानिकपुर एस. आई. राम जीवन यादव का कहब हवै कि घरेलू मामला आय जांच कीन जात हवै। धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज होइ गा हवै। अपराधी का गिरफ्तार करे के कोशिश कीन जात हवै।

रिपोर्टर- नाजनी रिजवी और सहोद्रा

Published on Apr 19, 2017