गर्मी बढ़तै पानी कै किल्लत शुरू

sampadiy1-copyगर्मी शुरू होतै ही मनईन के सामने पानी कै समस्या आई गै। जगह जगह तालाब कूंआ नदी सब सूख गै बाय । बरसात न होय से जल स्तर नीचे चला गै बाय। यही कारन जगह जगह हैन्डपम्प भी पानी देब बन्द कई दिए बाय। जानवर अउर मनई पानी खातिर भटकत हईन।
इहै हाल फैजाबाद अम्बेडकर नगर जिला के कइयौ गांव मा बाय।जइसै कि तारून ब्लाक मा जल स्तर नीचे जाए से काफी दिक्कत बाय। आदर्श जलाशय सूखा परा बाय। जानवर पानी पिये खातिर इधर उधर भटकत हइन। मनईन के घर कै निजी नलकूप एक दुई छोडि़के बाकी सब पानी छोडि देहे बाय। बहुत चलावै के बाद भी पानी नाय देत। ऐसे स्थिति मा सरकार काव करे कुछ कहा नाय जाय सकत। जब पानी पिए खातिर जानवर अउर मनई तरसै लगिहै तौ फसल कै सिचाई कईसे होई पाए। हर गा्रम सभा मा सरकारी तालाब खुदवाए जाथै। जेसे जानवरन का भी पानी कै दिक्कत न होय लकिन तालाब नहर नदी सब सूखी परी बाय। जेसे मनईन का जानवरन ताई काफी समस्या कै सामना करै का परत बाय।
जिम्मेदार अधिकारियन कै कहब बाय कि जब जल स्तर नीचे चला गै बाय तौ आदर्श जलाशय के तालाब मा कईसे पानी भराई जाए। गांव के मनईन कै कहब बाय कि अगर गांव मा आग लागी जाय तो बुतावै खातिर पानी न मिले। चाही पूरा गांव जरि जाए। अगर यही स्थिति रहे तो बूंद-बूंद पानी का मनई तरसै लगिहै।