गर्मी और गंदे नाले, डायरिया से मौत तो फिर होनी ही है, चित्रकूट जिले के कसहाई कुंजनपुरवा में

जिला चित्रकूट, गांव कसहाई, मजरा, कुंजन पुरवा दस दिना से हिंया डायरिया के बीमारी फइली हवै। जेहिके कारन चुन्ना ठेकेदार अउर मनिया देवी के मउत होइगे हवै। चुन्ना ठेकेदार का कैंसर भी रहा हवै। 12 सौ जनसंख्या वाले या पुरवा के लगभग 50 मड़इन का डायरिया हवै। जिला अस्पताल अउर प्राइवेट मा दवाई करावत हवै।गांव मा गन्दगी अउर गंदे पानी के कारन बीमारी फइली हवै। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.राम जी पाण्डेय कहत हवै कि गांव मा दवाई बंटवा दीन गे हवै अउर पानी मा भी दवाई मिला दीन गे हवै।जिला चित्रकूट, गांव कसहाई, मजरा, कुंजन पुरवा दस दिना से हिंया डायरिया के बीमारी फइली हवै। जेहिके कारन चुन्ना ठेकेदार अउर मनिया देवी के मउत होइगे हवै। चुन्ना ठेकेदार का कैंसर भी रहा हवै। 12 सौ जनसंख्या वाले या पुरवा के लगभग 50 मड़इन का डायरिया हवै। जिला अस्पताल अउर प्राइवेट मा दवाई करावत हवै।गांव मा गन्दगी अउर गंदे पानी के कारन बीमारी फइली हवै। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.राम जी पाण्डेय कहत हवै कि गांव मा दवाई बंटवा दीन गे हवै अउर पानी मा भी दवाई मिला दीन गे हवै। दिनेश बताइस कि मोहिका टट्टी उल्टी होत हवै अउर  चक्कर भी आवत हवै। सरकारी अस्पताल से दवाई लायें हन पै फायदा नहीं करत आय। मीरा अउर संवारिया बताइन  कि पूर बस्ती मा मड़ई घर-घर बीमार हवै। कउनौ-कउनौ घर मा तौ दस-दस मड़ई बीमार हवै। मड़इन  का साफ पानी पिये का नहीं मिलत आय। निर्मला का भी उल्टी टट्टी होत हवै।

रिपोर्टर- सुनीता देवी

16/06/2017 को प्रकाशित