गन्दगी से होत बीमारी

कूड़ा से बजबजात
कूड़ा से बजबजात

जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव मोहरवा। हिंया के हरि सिंह रामप्रकाश राजू समेत पन्द्रह लोगन का कहब हवै कि सफाई कर्मी गनेश चार महीना मा एक दरकी आवत हवै। गांव के सफाई कत्तौ नहीं करत हवै। प्रधान के लगे होइके चला जात हवै।
हरि सिंह का कहब हवै कि गन्दगी से मच्छर अउर बीमारी होत हवंै। या कारन सफाई होब जरूरी हवै, पै सफाई कर्मी सफाई करै नहीं आवत आय। या कारन पूर गांव मा गन्दगी हवै। या गन्दगी से मच्छर होत हवैं अउर मलेरिया फइलत हवै। या कारन मड़इन का बुखार होत हवै, पै या समस्या कउनौ का नजर नहीं आवत आय।
प्रधान रामदीन का कहब हवै कि या समय सफाई कर्मी के ड्यिूटी स्कूलन मा लागत हवै। या कारन सफाई कर्मी गांवन के सफाई नहीं कइ पावत आय।
सफाई कर्मी गनेश का कबह हवै कि सफाई मैं करत हौं। मड़ई जान के गन्दगी फइलावत हवै। अउर सफाई कर्मी का दोष देत हवै।