गणित के महारथी

प्रोफेसर मंजूल भार्गव
प्रोफेसर मंजूल भार्गव
प्रोफेसर मरियम मिर्जाखानी
प्रोफेसर मरियम मिर्जाखानी

गणित के क्षेत्र में कुछ खास करने के लिए ईरान की महिला मरियम और भारतीय मूल के मंजुल भार्गव को मिला पुरस्कार।
ईरान में जन्मी प्रोफेसर मरियम मिर्जाखानी को गणित में फील्ड्स मेडल मिला है। इसे नोबल पुरस्कार के बराबर ही माना जाता है। यह पुरस्कार पाने वाली मरियम पहली महिला गणितज्ञ हैं। अभी तक नोबल या उसके जैसा बड़ा पुरस्कार गणित के लिए किसी महिला को नहीं दिया गया है।
अमेरिका के वाशिंगटन शहर में रहने वाले भारतीय मूल के प्रोफेसर को मंजुल भार्गव को नोबल पुरस्कार मिला है। गणित के अंकों में महत्वपूर्ण नई पद्धति विकसित करने के लिए भार्गव को पुरस्कृत किया गया है। यह पुरस्कार चार साल के अंतराल में दिया जाता है। कनाडा में 1974 में जन्मे भार्गव अमेरिका में पले बढ़े हैं। हालांकि भारत में भी उन्होंने काफी समय गुज़ारा है। 2001 में उन्होंने पीएचडी की थी। यह पुरस्कार दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में आयोजित हुए इंटरनेशनल कांग्रेस आॅफ मैथमेटिक्स नाम के कार्यक्रम में दिए गए।