खाना खर्चा के मांग

सियारानी
सियारानी

जिला बांदा, ब्लाक जसपुरा, गांव बरेहटा। हेंया के सियारानी के ससुराल बांदा कस्बा का हरदौली मोहल्ला आय। सियारानी मनसवा लालमन से तंग आ के छह साल होइगे अलग रहत है अउर खाना खर्चा के मांग करत है।
सियारानी बतावत है-“मोर शादी 18 साल पहिले लालमन साथै भे रहै। मोर दुई बच्चा है मनसवा शादी के बाद से बहुतै मारपीट करत रहै। यहिसे मैं पंचायत लगायेंव पंचायत मा ससुराल वाले कहिन कि हम तोहिका खाना खर्चा दइबे। एक हजार रूपिया भी बांधिन यहिसे मैं अलग रहत हौं। कुछ दिन रूपिया मिला। अब छह महीना होइगे ससुराल वाले खाना खर्चा का रूपिया नहीं देत यहिसे मैं खर्चा के एक एक रूपिया का परेशान हौ। ”मनसवा लालमन कहत है कि वहिका खर्चा दीन जात है। घर मा रहै का भी कह त हन पै वा नहीं रहत आय।