क्रेशर से उड़ रही धूल से बर्बाद हो रही फसलें

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गांव गोंड़ा, अकबरपुर और भरतकूप का कुम्हारन पुरवा। यहां रहने वाले किसानों की फसलों में क्रेशर की धूल उड़कर पड़ती है। इससे अरहर, चना और सब्ज़ी की फसलें खराब हो रही हंै।
कुम्हारन पुरवा के किसान रमेश कुमार और बंशीधर का कहना है कि भरतकूप में लगभग दो सौ क्रेशर मशीनें चलती हैं। इनमें पत्थरों की गिट्टी काटने और पीसने का काम होता है। इससे क्रेशर से धूल उड़ती है। वह धूल फसलों को खराब कर देती है। सुरेश कुमार ने बताया कि दो बीघा जमीन में अरहर लगी है। उसकी फुनगी में धूल बैठ जाती हैं। इसका असर यह होता है कि आधी अधूरी ही फसल हमें मिलती है। क्रेशरों को खेतों से दूर जंगलों में लगाना चाहिए।
क्रेशर मालिक रमेश सिंह पटेल और ध्यान सिंह का कहना है कि क्रेशर की
धूल न उड़े इसके लिए दो साल पहले बाउन्ड्री बनवा ली थी। अब धूल नहीं उड़ती है।
ए.डी.एम. संतोष कुमार कहते हैं कि लोग लिखित दें तो कुछ उपाय हो सकता है क्योंकि यह बहुत पुराना मामला है।