क्या नयी सरकार, दहेज़ की दकियानूसी प्रथा से जुड़े हिंसा पर ध्यान देंगे?

जिला फैजाबाद, गाँव सोनावां दहेज़ हत्या मा उत्तर-प्रदेश देश मा सबसे आगे रहा है। का नई सरकार महिला हिंसा के एहि रूप का रोकै के ताई कउनौ कदम उठाये। सोनावां गाँव के सरला का दहेज के कारण जलाय के मारि डारै कै आरोप बाय। अबहीं सरला के शादी का साल भर भी नाय भए।
रामउरेही सरला के अम्मा कै कहब बाय कि लड़की के ससुर सत्रुहन कै फोन आय कि तोहर बिटिया जलि गई। जब हमरे सब गयन तौ उत्तर-दक्षिन लेटाई रहिन।
लल्लू प्रसाद सरला के मामा कै कहब बाय कि जब नौ बजे हमरे सब पहुंचेन तौ घरे मा लाश पड़ी रही।जीभ बाहर निकरी रही चेहरा पहचान नाय मिलत रहा। खुद से नाय जलिन उनका जलावा गा रहा।
रामधीरज लड़की के पिता के कहब बाय किबहनोई से सरला का भेजै के बात भए रही तौ वै कहिन कि एक लाख रुपया दिया अउर गाड़ी नाही तौ अंजाम बुरा होये।
सरला के जेठानी रामा देवी के कहब बाय कि पेट मा दुई महीना कै गेद्हरा रहा जब कहत रहिन कि भेज दिया तौ नाय भेजिन अउर जब भेजै के ताई तैयार भइन तौ वै जाय से मना के दिहिन।सास नन्द खेत मा गए रहिन। वै खाना बनावत रहिन। जब हम धुआ निकरत देखेंन तौ बलावै लागेंन दुई दरवाजा से अंदर बंद के लेहे रहिन। घर नाय खोलिन। जब पुलिस आय तौ दरवाजा तूरिके लाश बाहर निकारिन।
रुदौली थाना के सी.ओ. संतोष कुमार के कहब बाय कि सास ससुर नन्द अउर पति नामजद कीन गा रहे।सरला के पति का गिरफ्तार के लीनगा बाय। बाकी तीन जने के ऊपर जाँच जारी बाय। जल्दी जाँच पूरी कइके कारवाही होये।

रिपोर्टर- मनीषा यादव अउर संगीता

Published on Mar 14, 2017

क्या नयी सरकार, दहेज़ की दकियानूसी प्रथा से जुड़े हिंसा पर ध्यान देंगे? फैजाबाद से खबर