कोटेदार दिहिन अप्लीकेषन

taza1 finalजिला फैजाबाद, ब्लाक मया। मया क्षे़त्र कै कुछ कोटेदार मिलके 4 दिसम्बर 2014 का सम्भागीय खाद्य नियंत्रक मण्डल का अप्लीकेषन दिहिन। डोर स्टेप डिलेवरी के अन्तर्गत परिवहन व्यय विभाग का मिलत बाय। लकिन 2001 से अबहीं तक कोटेदारन का नाय मिला।
राजापुर सरैया कै कोटेदार राजाराम, केषवपुर कै रमेष, राजभर बताइन कि डोर डिलेवरी योजनाषासन के जरिये 2001 से 2005 तक हर कुन्तल पीछे चार रुपया पचास पैसा के दर से मिलत रहा। तब सबका आसान रहत रहा।
भोपा कै कपिलदेव मिश्र, पसौरा के सालिकराम यादव कै कहब बाय कि 2006 से 2010 तक कुन्तल पीछे पांच रुपया पचहत्तर पैसा मिलत रहा। 2011 से दस रुपया नियम बाय। जवन अबहीं तक नाय मिला। लकिन कागज मा देखाय उठा कि पैसा मिल चुका बाय।
जिला सम्भागीय खाद्य नियंत्रक अधिकारी रामजनम वर्मा बताइन कि जहां से राषन उठावाथिन वहि से फार्म लइके भरै। डाटा बनायके भेज देहे हई। जेतना पैसा लाग बाय क्रम के अनुसार भरै। केतना राषन उठावाथिन केतना खर्च लाग रहा। सीनियर माकेटिंग स्पेक्टर के पास जमा करैं। पैसा कै भुगतान कै दीन जाये।