कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक से हुई भारत की शुरुआत

साभार: सहवाग ट्विटर

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की झोली में पहला पदक चांदी के तमगे के तौर पर आया है, जिसे गुरुराजा पुजारी ने जीत लिया है।
गुरुराजा ने देश के लिए सिल्वर मेडल वेटलिफ्टिंग में हासिल किया। पुरुषों के 56 किलोग्राम भार वर्ग में भारत की चांदी कर गोल्ड कोस्ट में पदक जीतने वाले गुरु पहले भारतीय बने।
गुरुराजा पुजारी ने सिल्वर मेडल पर कब्जा करने के लिए स्नैच में 111 किलो का भार उठाया जबकि क्लीन एंड जर्क में 138 किलो का भार उठाते हुए कुल 249 किलोग्राम वेट उठाया और वो दूसरे नंबर पर रहे।
इस मुकाबले में मलेशिया के इजहार अहमद ने कुल 261 का भार उठाते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स का नया रिकॉर्ड बनाया और सोने का तमगा हासिल किया। जबकि श्रीलंका के चतुरंगा लकमल ने गुरुराजा से एक किलो कम का भार यानी 248 किलो उठाते हुए इस मुकाबले का ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया।
गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में पहला मेडल अगर भारत के लिए गुरुराजा पुजारी ने जीता तो वहीं इस प्रतियोगिता का पहला गोल्ड बरमूडा के नाम रहा।