कैसे मिलेगा राशन? झांसी के खजराहा खुर्द गाँव में राशन कार्ड नहीं सिर्फ पर्चे हैं

जिला झांसी, ब्लाक बबीना, गांव खजराहा खुर्द इते के आदमियन को आरोप हे के भोत आदमियन के पास राशनकार्ड नइया केवल पर्ची हे। लेकिन कोटेदार बा पे राशन नइ दे रए। गरीब आदमियन को खाबे की मुश्किल दिखा रई।
सुनीता ने बताई के हमाओ कछु नइ बनो पांच मोड़ी मोड़ा हे छोटे छोटे हर कछू की परेशानी होत। कैसे पाले मजूरी करत सो जेसो चल रओ सो चला रए।
सुमन ने बताई के कछू नइया न हमाओ राशनकार्ड हे न आधार कार्ड हे न पेंशन मिलत। आदमी हे सो दारू खोरा हे। न साबुन न तेल कछु नइया हर चीज की परेशानी हे खाबे की पीबे की परेशानी तीन मोड़ी मोड़ा हे। मजूरी कर के खा रए पी रए। अगर हमे मिलतो तो बचत न होती हमाई।
रेखा ने बताई के हमाओ राशनकार्ड नइ बनो सब से के दई प्रधान से और सबसे कह देत के बन जेहे बन जेहे। फार्म भी भरो तो हमने।
सुमन ने बताई के सबके आ गये हमाय नइ आय राशनकार्ड अबे हम तीनऊ जने संगे ले लेत ते सास देवरानी जिठानी अब बोई मना कर दई। कह रए के दूसरो कार्ड लेके आओ। कह रए ते के जा नंबर को कार्ड आ गओ और प्रधान से कई सो कह रए के अबे नइ आओ। केऊ बार के लई के देत के बन जेहे बन जेहे लेकिन नइ बनो अबे तक।
मदन प्रधान ने बताई के जो अबे रह गये उनके अब चुनाव के बाद बन हे। और जो पर्ची हे बिन पे राशन दओ जेहे।

रिपोर्टर- सफीना

06/02/2017 को प्रकाशित