केसे चलाहें परिवार

शकुन्तला
शकुन्तला

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव बिल्खी। एते की शकुन्तला बकरी ओर भैंस के ओर बेंच के परिवार पालत हती। ऊखो आदमी ओमप्रकाश ऊखे सब रूपइया ले लेत हे। ओर गाली गलौज करत हे। एईसे ऊने 27 मई 2014 खा श्रीनगर थाने में दरखास दई हे।
शकुन्तला ने बताओ कि में श्रीनगर कस्बा में रहत हों, ओर बकरी भैंस चरा के ऊखो बच्चा बेंच के आपन परिवार पालत हती। पांच साल पेहले मेंने बिल्खी गांव के मुन्ना ओर कल्लू खा 13 हजार रूपइया दये हते। ऊ रूपइया मोये आदमी ओमप्रकाश ने ले लए हें। जभे कि मोओ आदमी मोसे दो साल से नई बोलत हे। न धोती कपड़ा देत हे न खर्चा जोन में धूप में खून पसीना एक करके कमात हों ऊ भी ले लेत हे। अगर में रूपइया मांगत हों तो मारे खा कहत हे। एई से मेंने मुन्ना ओर आदमी ओम प्रकाश के खिलाफ श्रीनगर थाना में दरखास दई हे। मुन्ना की मताई ने कहो कि में 24 मई 2014 खा दस हजार रूपइया देत हती तो शकुन्तला छह साल की ब्याज मांगत हती। जभे कि रूपइया लये हमें दो साल भये हें। एई से मेंने ऊखे आदमी ओमप्रकाश खा रूपइया दे दये हें। आदमी ओमप्रकाश ने कहो कि जोन रूपइया मोये मिलो हे ऊ घर मे धरो हे मेंने खर्च नई करो हे।
श्रीनगर थाना के एस.ओ. लालता प्रसाद भास्कर ने कहो कि ऊखो आपसी मामला हे। शकुन्तला खा ऊखे आदमी से 15 हजार रूपइया दिवा के आपस में समझौता करा दओ हे। एई से कोनऊ कारवाही नई करी हे।