केरल के मेडिकल कॉलेज में छात्राओं के जींस पहने पर पाबंदी

साभार: विकिपीडिया
साभार: विकिपीडिया

केरल के एक सरकारी मेडिकल कॉलेज में अब लड़कियां जींस नहीं पहन सकती हैं। कॉलेज प्रशासन ने न केवल लड़कियों के जींस पहनने पर पाबंदी लगाई है, बल्कि उनसे कहा गया है कि वे ‘शोर करने वाले आभूषण’ पहनकर न आएं, साथ ही कॉलेज प्रांगण में सफेद ओवरकोट पहनना और हर वक्त अपना आई कार्ड डिस्प्ले करना भी अनिवार्य कर दिया है।
मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों का कहना है कि इस ड्रेस कोड का मकसद वॉर्ड में जाने वाले छात्रों को किसी भी तरह से संक्रमण से सुरक्षित रखना है। साथ ही लड़कियों को आवारा लड़कों से बचाना है।
सर्कुलर के मुताबिक, लड़कों को ‘साफ-सुथरे कपड़े और फॉर्मल ड्रेस व जूते’ पहनने होंगे। जबकि लड़कियों को ‘चूड़ीदार या साड़ी’ पहनने के लिए कहा गया है। यही नहीं, लड़कियों के बाल बंधे हुए होने चाहिए। सर्कुलर में साफ तौर पर लिखा गया गया है कि लड़कियां जींस या लेगिंग्स नहीं पहन सकती हैं।
इससे पहले केरल के ही कोझीकोड में एक कॉलेज ने प्रांगण में लड़कियों के जींस पहनकर आने पर पाबंदी लगा दी थी।इन नियमों के चलते मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में पढ़ने वाली लड़कियों ने शिकायत की है कि साड़ी पहनने पर उन्हें बाकी काम करने में दिक्कत होती है, साथ ही दुपट्टे का ध्यान रखना भी मुश्किल होता है।