केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने प्रिया वारियार के विवादित गाने का समर्थन किया

साभार: विकिपीडिया

प्रिया वारियार के विवादित गाने के समर्थन में अब केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन उतर आये हैं। इसी गाने के खिलाफ मजहबी भावनाओं को आहत करने को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है।
विजयन ने फेसबुक पर एक पोस्ट में कहा कि कला और विचार की स्वतंत्र अभिव्यक्ति के खिलाफ असहिष्णुता को स्वीकार नहीं किया जा सकता है।
बता दें कि मणिक्या मालारया पूवी गाने को लेकर हैदराबाद में फिल्म निर्देशक उमर लुलु के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के संदर्भ में केरल के मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के किसी भी तबके की असहिष्णुता को स्वीकार नहीं किया जा सकता।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में अगर किसी को शक है कि हिन्दू और मुस्लिम कट्टरपंथियों ने हाथ मिला लिया है तो उन्हें दोष नहीं दिया जा सकता।
विजयन ने कहा कि यह गानामपिल्ला पट्टू’ (पारंपरिक मुस्लिम गीत) का रीमीक्स है जिसे पी एम एक जब्बार ने लिखा है और टी रफीक ने इसे रूपांतरित किया है। वर्ष 1978 में इसे आकाशवाणी ने भी प्रसारित किया था।
सीएम ने कहा कि कला और साहित्य धार्मिक कट्टरपंथ और सांप्रदायिकता के खिलाफ मजबूत हथियार है। हमें स्वतंत्र कला के हिमायतियों के साथ खड़ा होने की जरूरत है।

प्रिया वारियार से जुड़ी खबरें देखने के लिए यहाँ  क्लिक करें…