कूड़ा का लाग अंबार

अतर्रा चूंगी मा कुडा का ढेर
अतर्रा चूंगी मा कुडा का ढेर

बांदा शहर का मोहल्ला अलीगंज वार्ड नम्बर 18। हेंया लगभग बीस दिन से कूड़ा का ढ़ेर लाग है। नाला मा कूड़ा फंसा होय के कारन बरसात का पानी नाला मा नहीं अमात अउर सड़कन के ऊपर बने घर मा घुसत है। नगर पालिका के नजर या कूड़ा मा काहे नहीं परत।
वार्ड नम्बर अट्ठारह का अतर्रा चूंगी के नाम से भी जानत है। या चूंगी से इलाहाबाद अउर नरैनी के मेन सड़क है। रोज का हजारन साधन गुजरत है। यहै चूंगी चैकी से नरैनी कइत का जाय वाली सड़क मा कूड़ा का अंबार लाग हैं। मोहल्ला के रामप्यारी, देवनारायण अउर अरविन्द बतावत हैं कि या गन्दगी से बहुतै परेशान है। कूड़ा नगर पालिका वाले नाला से निकार के लगा तौ दिहिन, पै उठाइन निहाय। या मारे वा कूड़ा दुबारा से नाला मा गिर जात है। दूसर बात या भी है कि नाला मा कूड़ा फंसा है। यहिका निकारै खातिर कइयौ दरकी नगर    पालिका मा कहा गा, पै अधिकारी भरोसा देब ही आपन जिम्मेदारी समझत हैं।
नगर पालिका अधिशाषी अभियन्ता गिरीश कुमार शर्मा कहत है कि वा कूड़ा का बहुतै जल्दी उठवा लीन जई। साथै फंसे कूड़ा के सफाई भी करा दीन जई। यहिनतान परूशुराम तालाब मोहल्ला के वार्ड नम्बर दुई मा रहैं वाले राधेश्याम अउर किशोरी लाल कहत हैं कि हमरे-“हेया दस साल से नाला अउर रास्ता खुदा परा है। यहिकी अनगिनतिन दरखास नगर पालिका मा दीन है, पै उंई कउनौ ध्यान नहीं देत आय। यहिसे बरसात मा चार महीना बहुतै परेशानी होत है बच्चा स्कूल तक नहीं जा पावत आय चार महीना संेत मा फीस भरैं का परत है। जबै कि फरवरी 2013 मा नाला अउर रास्ता के नाप भी चेयर मैन विनोद जैन कराइस है। यहिसे लगत है कि नाला अउर रास्ता बन जाय तौ नींक है।
चेयर मैन विनोद जैन कहत है कि या नाला रेलवे के हद मा है। उनका या नाला बनवावैं खातिर चिठ्ठी लिखी गे है। पता नहीं उंई कबै तक मा बनवाइहैं।