किसानों का बंद, सब्जियों के बढ़ेंगे दाम, होगी दिक्कत

देश के कई राज्यों के किसानों ने 1 जून से 10 दिन का गांव बंद बुलाया है। इसमें देशभर के कई किसान संगठन लंबे समय से अपनी मांगों को नहीं माने जाने के विरोध में साथ आये हैं।
इस बंद में महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब समेत कई राज्यों के किसान शामिल हैं। इनकी मुख्य मांग है कि इनकी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य इन्हें दिया जाए। साथ ही फलों और सब्ज़ियों का भी न्यूनतम मूल्य तय किया जाए।
वहीँ, किसान लंबे समय से दूध की न्यूनतम क़ीमत 27 रुपये लीटर करने की मांग कर रहे हैं। बंद के दौरान किसान कई जगह घेराव करेंगे। साथ ही वे रैलियां भी निकालेंगे। इस हड़ताल से दूध, फल सब्ज़ियों की सप्लाई पर असर पड़ रहा है।
सूत्रों के अनुसार, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और पंजाब में किसान संगठनों ने इसका समर्थन किया है, तो वहीं छत्तीसगढ़ प्रगतिशील किसान संगठन भी बंद में शामिल होगा। राष्ट्रीय किसान संगठन का दावा है कि इनके साथ 35 हजार किसान जुड़े हैं
बताया जा रहा है कि किसान की मुख्य मांग स्वामीनाथन कमीशन को लागू करना और कर्ज माफी है। इसी को लेकर वे हड़ताल कर रहे हैं।