किशोरी काउन्सेलर से एक मुलाकात

Faizabad - Kishori Counselor - Dr. Pooja Singh for webजिला फैज़ाबाद। सितम्बर 2013 से डाक्टर पूजा सिंह फैज़ाबाद महिला अस्पताल में किशोरी स्वास्थ्य विभाग में काउन्सेलर के पद पर काम कर रही हैं।
जिले में काम करने का आपका क्या अनुभव रहा है?
हर महीने कुछ ढाइ सौ लड़कियां यहां आती हैं। उनके पास कई तरह के सवाल होते हैं – कुछ माहवारी से जुड़े तो अक्सर अट्ठारह-उन्नीस साल की लड़कियां जो दूसरी या तीसरी बार गर्भवती हैं।
इस समय किशोरी स्वास्थ्य विभाग क्या काम कर रहा है?
फैज़ाबाद में ‘सबला’ योजना लागू नहीं है राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत दो मुख्य मुद्दों पर काम किया जा रहा है – आयरन गोलियों का वितरण और माहवारी के समय साफ सफाई बरतने पर।
और क्या काम करने की ज़रूरत है?
हमारी पहुंच गांव-गांव तक नहीं है। सरकार की ओर से हमें गांव जाने के लिए कोई बजट नहीं दिया गया है। कई सुविधाएं सिर्फ उन किशोरियों के लिए हैं जो महिला अस्पताल तक आती हैं। नतीजन कई किशोरियां इन सुविधाओं का लाभ नहीं उठा पाती हैं।