काल कलौती खेलते बच्चे

c-2जिला अम्बेडकर नगर। यहां बरसात के मौसम में पानी न बरसने पर एक अनोखा खेल खेला जाता है। इस खेल का नाम कलाकलौती है और इसे बच्चे खेलते हैं।
जिले में मान्यता है कि बरसात न होने का कारण बरसात करवाने के लिए जि़म्मेदार देवता इंद्रदेव को खुश करना पड़ता है। इन्हें बच्चे ही खुश कर सकते हैं। बच्चे गांव गांव में जाकर रास्तों में मिट्टी पर लोटते हैं। इनके ऊपर गांव के लोग बाल्टी भर भरकर पानी फेंकते हैं। मिट्टी में लिपटे यह बच्चे ज़ोर ज़ोर से चिल्लाते हैं कला कलौती उज्जर धोती मेघा रे पानी दे। शाम को यह बच्चे घर घर से आलू, आटा मांगकर लाते हैं। आग में आलू भूनकर और आटे की मोटी मोटी रोटी बनाकर यह खाते हैं। माना जाता है कि बच्चों के इस खेल से इंद्रदेव रीझ जाते हैं और खुश होकर पानी बरसाते हैं।