कालिंजर का कजली मेला

ये है कालिंजर का कजली मेला। भादौं महीने के पहले दिन हर साल मनाया जाता है ये मेला। हज़ारों लाखों की तादाद में हिन्दू और मुसलमान मिल के मेले को मनाते हैं। मुग़ल साम्राज्य के शासकों और राजाओं, आल्हा, ऊदल, रानी मछला आदि की झांकियां निकालते हैं।  
ये है कालिंजर का कजली मेला। भादौं महीने के पहले दिन हर साल मनाया जाता है ये मेला। हज़ारों लाखों की तादाद में हिन्दू और मुसलमान मिल के मेले को मनाते हैं। मुग़ल साम्राज्य के शासकों और राजाओं, आल्हा, ऊदल, रानी मछला आदि की झांकियां निकालते हैं।