कहिया मिलतई पेंशन

f Picture 367जिला शिवहर, प्रखण्ड पिपराढ़ी, गांव दोस्तीया। उहां वार्ड नम्बर छौ में शीला देवी छथिन। जिनका पति के मरला लगभग आठ साल हो गेलई। लेकिन अभी ले विधवा पेन्सन न मिलई छई। उहां के प्रमिला देवी, विन्दू देवी, प्रमोद ठाकुर सब कहलथिन कि शीला देवी विधवा छथिन। उनका पास बेटा भी न हई दूगो बेटी हई उनकरो शादी क देले छथिन। अइसन लोग के पेंशन  के सुविधा मिले के चाहि, लेकिन न मिलई छई। शीला देवी कहलथिन कि हम त केतना आवेदन वार्ड सदस्य से लेके मुखिया के देली लेकिन कहां पेन्सन मिलईय? न ही कोई सरकारी सुविधा मिलइय। पति मर गेलथिन त बेटा रहइत त हमरा सहरा रहइत लेकिन उहांे न हइ सरकारो केतना सुविधा देई छथिन। लेकिन हमरा कोनो सुविधा न मिलइय। 

मुखिया गीता देवी कहलथिन कि हमरा पास आवेदन आयल त हम प्रखण्ड में जमा क देले छी। लेकिन उनका आगे के लेल अउर कुछ भी सुविधा चाहि। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी अब्दूल क्यूम अंसारी कहलथिन कि हमरा पास आवेदन न आयल हई। अगर आयल होतई त जांच कयला के बाद सुविधा देल जतई।