कहां से लाउ पढ़ल-लिखल ?

  समीना खातून
समीना खातून

जिला शिवहर, प्रखण्ड तरियानी, गांव कस्तुरिया, वार्ड नम्बर पंद्रह। इहां के समीना खातून के पति के मरला लगभग सात महिना हो गेलई। लेकिन उनका पारिवारिक लाभ न मिल रहल  हई।
समीना खातून कहलथिन कि हमर पति मोहम्मद मंसूर बिमारी से मर गेल। उनकर पैर में घाव हो गेल रहे ओही से मरिये गेल। जेहे कमायत रहलक ओई से परिवार चलवईत रहलीय। अब त केकरो घर में काम लगईय त करई छी न त मांग चांग के खाई छी। पांच गो बच्चा हय ओकर गुजारा करनाई मुश्किल हो रहल हय। एगो छोट बेटा हय, उहो न चलईय। एकर इलाज करावे ला रूपईया न हय। मुखिया के कहे जाई छी त कहई छथिन कि कोनो पढ़ल-लिखल आदमी के बोलाउ उ प्रखण्ड में दौड़-धूप करत। हम गरीब आदमी हमर कोन सहरा होतई। हम कहां से लाउ पढ़ल-लिखल आदमी?
मुखिया नाजो खातून के पति अमीन अंसारी कहलथिन कि अभी त चुनाव के लेके सारा काम रुकल रहलईय। अब उनकरा पारिवारिक लाभ जरुर मिलतई। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी साह रजा हुसैन कहलथिन कि अगर उनकर काम पंचायत में न हो रहल हई त उ अपन आवेदन प्रखण्ड में आ.टी.पी.एस. काउण्टर पर जमा करें। उनका लाभ जरुर मिलतई।