कर्वी में बस पकड़नी है? सांस रोककर बैठ सकते हो?

जिला चित्रकूट, कस्बा कर्वी, बस अड्डा गन्दगी कूड़ा खुली नाली का यहै आय स्वच्छ भारत का असली चेहरा।हिंया के बस अड्डा का यहै हाल हवै कूड़ा का ढेर  पड़ा रहत हवै अउर सुलभ शौचालय के खुली नाली बहत हवै। नाली का पानी खुला नाला मा जात हवै जेहिसे हिंया बहुतै गन्दगी अउर बदबू फइलत हवै। यहै कारन बस का इंतजार करै वाले मड़इन का नाक दबा के बइठे का पड़त हवै खुला नाला मा आय दिन छोट-छोट बच्चा जानवर गिरत रहत हवै।पै विभाग ध्यान नहीं देत आय।जिला चित्रकूट, कस्बा कर्वी, बस अड्डा गन्दगी कूड़ा खुली नाली का यहै आय स्वच्छ भारत का असली चेहरा।हिंया के बस अड्डा का यहै हाल हवै कूड़ा का ढेर  पड़ा रहत हवै अउर सुलभ शौचालय के खुली नाली बहत हवै। नाली का पानी खुला नाला मा जात हवै जेहिसे हिंया बहुतै गन्दगी अउर बदबू फइलत हवै। यहै कारन बस का इंतजार करै वाले मड़इन का नाक दबा के बइठे का पड़त हवै खुला नाला मा आय दिन छोट-छोट बच्चा जानवर गिरत रहत हवै।पै विभाग ध्यान नहीं देत आय। दीन दयाल केसरवानी अउर उमाकान्त तिवारी बताइन कि पांच छह साल से शौचालय के नाली बहत हवै जेहिसे बहुतै बदबू फइलत हवै। बस से उतरे वाले छोट-छोट बच्चा खुला नाला मा गिर जात हवै।सुलभ शौचालय कर्मचारी राहुल बताइस कि शौचालय का पानी नाला मा जात हवै। हिंया रोज सफाई कीन जात हवै। परिवहन विभाग के वरिष्ठ लिपिक आर. के. पाण्डेय बताइन कि जब परिवहन मंत्री आये रहै तौ सफाई का कहिन रहै पै आज तक कुछौ सफाई नहीं भे आय। नगर पालिका अधिकारी लालचन्द्र सरोज बताइन कि बहुतै दिना से सुलभ शौचालय के सफाई नहीं भे आय।बस वाले नाला का ढक्कन हटा देत हवै। ढक्कन जाम करा दीन जई।

रिपोर्टर- नाजनी रिजवी

14/06/2017 को प्रकाशित