कर्ज के सदमा से मौत

m gao se khabar ladpur kotedarजिला महोबा, ब्लाक जैतपुर। के अलग अलग गांव में दो आदमियन की कर्जा के सदमें से मोत हो गई हे। ईखी सूचना कुलपहाड़ कोतवाली ओर तहसील में दई हे।
कोतवाली क्षेत्र में सुगिरा गांव के 45 साल के किसान जगदीश की मोत 1 जनवरी खा हो गई हे। जगदीश की ओरत सवित्री कहत हे की हमाये चार बीघा खेती हे ओर पचास हजार रुपइया कर्जा हे। तीन साल सक कछू नई भओ, एई सोच में हमेशा रहत हते। कहत हते की इत्ते जानवर हे ओर परिवार केसे चलहे। ऊ दिना जानवरन के लाने दूसरे गांव भूसा लेन जात हते। तभई सीना मे दर्द भओ ओर मोत हो गई हे। एसई लाड़पुर कोटेदार साकूर की कर्जा के सदमें से मोत 31 दिसम्बर 2015 खा हो गई हे। ओरत कम्मो कहत हे की छोट लड़का खा कैसर हो गओ हतो। जीखे दवाई के लाने कर्जा लओ हतो। अब एक साल से बड़ो लड़का बिमार रहत हे। दोनऊ के इलाज ओर परिवार के खर्चा मे हमाये तेरह लाख रुपइया कर्जा हो गओ हे। एई कर्जा के सोच में 31 दिसम्बर खा सीने में दर्द उठो इलाज के लाने ग्वालियर ले गये। ओतई ऊखी मोत हो गई हती। अब लगत हे की हमाओ परिवार केसे चलहे, लड़का को इलाज केसे हो हे। कुलपहाड़ तहसील के रजिस्टार कानून गो राकेश कुमार कहत हे की हमने सुगिरा वाले किसान की पोस्टमार्टम रिपोर्ट मांगी हे। अगर रिपोर्ट में सदमें से मोत निकरहे तो परिवार खा चार लाख रुपइया को मुआवजा मिलहे। लाड़पुर वालेन ने पोस्टपार्टम नईं कराओ हे। का पता केसे मोत भई हे।