करुण नायर ने लगातार तीसरा शतक लगाकर रचा इतिहासैै

साभार: स्पोर्ट्सकीड़ा

भारत के युवा बल्लेबाज करुण नायर ने इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में तीसरा शतक लगा कर इतिहास रचा डाला। 25 साल के नायर ने अपने तीसरे ही टेस्ट में यह उपलब्धि हासिल कर ली।
सीरीज के पांचवें टेस्ट के चौथे दिन नायर ने 381 गेंदों का सामना करते हुए 32 चौकों और चार छक्कों की मदद से तीसरा शतक पूरा किया। भारत की ओर से तीसरा शतक लगाने वाले वह दूसरे बल्लेबाज हैं।
इससे पहले वीरेंद्र सहवाग ने चेन्नई में ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 319 रन बनाए थे। सहवाग ने टेस्ट क्रिकेट में दो तीसरे शतक बनाए हैं।
उन्होंने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए सबसे कम पारियां खेली हैं। उनसे पहले यह रिकॉर्ड इंग्लैंड के लेन हटन के नाम था।
करुण नायर अपने पहले ही टेस्ट शतक को तीसरा शतक में बदलने वाले दुनिया के तीसरे और भारत के पहले बल्लेबाज है। उनसे पहले साल 1958 में वेस्ट इंडीज के गैरी सोबर्स ने पहले शतक के रूप में नाबाद 365 रन बनाए थे। वहीं 1964 में सिंपसन ने 311 रन की पारी खेली थी।
टेस्ट क्रिकेट में भारत की ओर से करुण नायर की नाबाद 303 रन की पारी तीसरा सबसे बड़ा स्कोर है। यह रिकॉर्ड वीरेंद्र सहवाग के नाम है उन्होंने 319 और 309 रन बनाए थे।
साल 2016 में यह दूसरा तीसरा शतक है। नायर से पहले पाकिस्तान के अजहर अली ने नाबाद 302 रन बनाए थे। टेस्ट क्रिकेट में यह केवल तीसरा मौका है जब एक साल में दो तीसरे शतक बने हो।
नायर तीसरा शतक लगाने वाले छठे सबसे युवा बल्लेबाज हैं।