थोड़ा बर्गर हो जाए? फैजाबाद के शिवराम यादव के दुकान पर

जिला फैजाबाद, मउशिवाला चौराहा पै शिवराम यादव के दूकान के बर्गर कै जवाब नाय। तबै तौ छह किलोमीटर दूर से मनई यहि बर्गर खाय आवाथिन।
ग्राहक अंशू मिश्रा कै कहब बाय कि बर्गर फैजाबाद मा कईव जगह खाये हई लकिन इनके हिया कै स्वाद अलग बाय।टेस्ट बहुत बढ़िया बाय। एतना पसंद बाय एहिकै बर्गर कि अगर दिन भर कुछ न खाब तौ बर्गर खाय के दिन बीत जाथै।
राजबहादुर ग्राहक कै कहब बाय कि इनके हिया जवन सामान मिलाथै सब सही रहा थै। इनके बर्गर कै अउर केहू से तुलना नाय कीन जाय सकत।हम लगभग डेढ़ साल से एहि जब भी आईथी खाय के जाईथी।
ग्राहक कै कहब बाय कि येहमा नार्मल प्याज, चुकंदर मूली डाराथिन। साथ मा चाऊमीन डारिके बहुत ही अच्छे तरह से बनावाथिन। छह किलोमीटर दूर से आईथी खाय। एहि आवै कै कइव कारण बाय। इनके बनावै कै जवन प्रक्रिया बाय ऊ स्वादिस्ट अउर सस्ती पराथै।हर जगह पचीस रुपया तक मिलाथै लकिन इनके हियाँ बारह रुपया पीस मिलाथै। अउर खाय मा भी स्वादिष्ट।
शिवराम दुकान मालिक कै कहब बाय कि हम चार भाई हई। पहले बड़े भाई बनावत रहे धीरे धीरे सब जने मिलके बनावै लागेन। बहुत मनई देखके सीखके गये बनावे के ताई। केहू केहू कै अबहीं चलत बाय।

रिपोर्टर- संगीता

Published on Apr 7, 2017