कब मिले सरकारी सुविधा?

Tarun CHC webफैजाबाद अउर अम्बेडकर नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के व्यस्वस्था से मनई मा काफी परेषानी बाय। अब तक तौ ज्यादा समस्या दवा न मिलै या डाक्टर के लापरवाही कै सुनै का मिलत रही। लकिन अब तौ प्रसव के ताई आई मेहरारुन का खाना मिलब बन्द होइगा बाय। ऐसे मा जवन मेहरारू डेलवरी के ताई आवाथिन तौ पता चलै पै कवन मेर सुविधा करिहैं। उनका तौ पता बाय कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कउनौ भी सरकारी अस्पताल मा सुविधा फ्री रहाथै।

कटेहरी ब्लाक के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मा मनई का सहारा रहा थै कि खाना नास्ता कै व्यवस्था न करैं का परे। अउर अगर देखा जाए तौ गरीब मनई ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मा आवाथिन। ज्यादातर लोग प्राइवेट मा जाथिन। अगर उनकै आषा निराषा मा बदल जाये तौ गरीबन कै काव होये? अउर ई तौ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कै नियम बाय कि वहि मरीजन का फ्री मा सुविधा मिलै। यहि बात का गम्भीरता से सोंचै कै जरूरत बाय कि जवन मरीज गरीब अहैं वै कवन मेर ई सारी व्यवस्था करिहैं। अब तक तौ दवा ही बाहर से लावै का परत रहा। लकिन अब खाना नास्ता कै ब्यवस्था देखै का परत बाय।षासन प्रषासन कै मानब बाय कि 1 अप्रैल से खाना नास्ता बन्द भै बाय।

जब बजट आये तबै खाना बनवाय जाये। एैसन मा वै मरीज का काफी दिक्कत झेलै का परत बाय जवन ई आष लगाय के जाथिन की वहि ई सब सुविधा फ्री मिले। अगर दुई महीना से ई समस्या बाय तौ षासन-प्रषासन मरीजन के ताई अब तक कुछ न कुछ सुविधा काहे नाय करिन? ई तौ बीुत बड़ी समस्या बाय कि बजट न हुवय से दिक्कत बाय लकिन यहि गर्मी के मौसम मा भी मरीजन का सुविधा न मिलै पै काफी समस्या बाय।