कब तक होतई सुधार?

विद्यालय
विद्यालय

सरकार अनेक तरह के योजना लगू कर के हर विभाग में कर्मी बहाली कयले छथिन। कयला कि कोई भी योजना के काम में बाधा न पहूंचे फिर भी समय से काम पुरा न होई छई। जईसे में सीतामढ़ी अउर शिवहर जिला में बहुत अईसन विद्यालय देखे के मिलईय कि कहीं के विद्यालय सड़क से नीच हई त कहीं बाउन्ड्री न हई, कही शौचालय चापाकल के समस्या लागल हई। जेई कारण बच्चा अउर शिक्षक के बहुत परेशानी होई छई। जईसे में शिवहर जिला में राजकीय मध्य विद्यालय विशनपुर फकीरा के फिल्ड बहुत निच हई। तनको बरसा होई छई त पुरा फिल्ड बहुत पानी किचर भर जाई छई। जब कि कईक तरह के योजना से विद्यालय में काम होई छई। जेईसे में सोलर लाईट घोटाला में कईक प्रखण्ड के मुखिया पर हाई कोर्ट से केश चल रहल। जेई कारण अभी तक कोई नया स्कीम भी न आ रहल हई। भवन निर्माण के लेल लाखों रूपईया अबई छई लेकिन बजट के अनुसार काम न होई छई।
जईसे कि बिहार शिक्षा परियोजना के द्वारा विद्यालय के भवन निर्माण, बाउन्ड्री,पी.एच.डी. के द्वारा शौचालय, चापाकल, मनरेगा के द्वारा मिट्टीकरण के काम होई छई। इ सब काम के लेल हर विभाग बनल हई। फिर भी काम में देरी होई छई। अगर सरकार योजना लागू कयले छथिन त समय-समय से काम के भी पलट के भी देखे के चाही।