कतौ अंधेरा कतौ ढील तार

इनतान छुवत हैं तार
इनतान छुवत हैं तार

जिला बांदा, ब्लाक महुआ, गांव पैगम्बर पुर अउर बडोखर खुर्द का गांव भूरागढ़। हेंया दलित बस्ती वार्ड नम्बर चार मा बिजली का खम्भा है। रास्ता मा गांव का तिराहा है। यहिके मरकरी न जलै से मड़इन का बहुतै परेशानी है। प्रधान से कइयौ दरकी कहा गा है, पै वा ध्यान नहीं देत आय। भूरागढ़ मा ग्यारह हजार पावर के तार ढील हैं। मड़ई बिजली विभाग मा सुचना दीन,पै उनका कउनौ ध्यान निहाय।
पैगम्बर पुर गांव के फूलचन्द्र, रामदीन, चुन्नी अउर राजेन्द्र का कहब है कि या तिराहा के बिजली न जलै से चोरी होय का डेर बना रहत है। अगर या मरकरी जलत रही है, तौ दुवारे मा उजियार रहत रहा है। या मरकरी लगभग पांच साल से खराब है। लालेराम अउर सावित्री बतावत हैं कि रात बिरात मड़ई या रास्ता से निकरत है, तौ अंधियारे मा देखात निहाय। प्रधान से कइयौ दरकी बनवावैं का कहा गा, पै वहिका आपन मोहल्ला से फुरसत निहाय। प्रधान सुदामा देवी का मनसवा नत्थू प्रसाद कहत है कि मड़ई वहिसे या समस्या के बारे मा नहीं बताइन। अब वा खुदै जा के देखी अउर मरकरी लगवावैं खातिर कारवाही करी। भूरागढ़ के सुनील गुप्त, रामप्रताप अउर रामरूप बतावत है-“हमरे गांव मा 2005 से बिजली लाग है। यतने दिन होई गे एकौ दरकी तार नहीं बदले गे आय। ग्यारह हजार पावर के बिजली के तार है 2011 से ढील है, पै बिजली विभाग वालेन का कउनौ सुनाई निहाय। मड़ई के घरन मा तार धरे है। या मारे मड़ई परेशान है।
विद्युत  विभाग पीली कोठी एस. डी. ओ. नेहा सिंह कहत है कि जांच कीन जई यहिके बाद कारवाही होई।