कईसे होतई बिमारी से छुटकारा?

रोग से पिडि़त  महिला
रोग से पिडि़त महिला

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड डुमरा, पंचायत, गांव लगमा। उहां मुस्लिम टोला में लगभग पंद्रह से बीस महिला गुप्त रोग से पिडि़त छथिन। लेकिन उनका सब के कोनो उपचार न हो रहल हई।
गुप्त रोग से पिडि़त महिला रौशन खातून, नसिमा खातून लगभग दस पंद्रह महिला कहलथिन कि हमरा सब के गांव में उपस्वास्थ्य केन्द्र हई। लेकिन कहियो न खुलई छई। कहियो-कहियो केन्द्र पर दवा लावे जाई छी त कोनो रहबे न करई छथिन। त इलाज केना होतई। सदर अस्पताल सीतामढ़ी में जाई छी त दिन भर समय लाग जाईय। कोनो दवा मिलल कोनो मिलवो न कयलक। सरकार सुविधा त देले छथिन लेकिन मिलई छई कहां? जिला स्वास्थ्य पदाधिकारी डाॅक्टर ओम प्रकास पंजियार कहलथिन कि ऐई बिमारी के इलाज सदर अस्पताल में ही हो रहल हई। जे दवाई रहई छई से त मिलिय जाई छई। जे न रहई छई उ त बाहर से लावे परत। जे दवा खत्म हो जाई छई त फिर ओकरा लेल लिखित आवेदन भेजली तब दवाई अबई छई।