ओरछा में छाया बुन्देलखण्ड

16-10-14 Kshetriya - Taragram (for web)ओरछा, जिला टीकमगढ़। 13 अक्टूबर को दिल्ली की ‘डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्ज़’ नाम की संस्था ने ताराग्राम ओरछा में सालाना मेले का आयोजन किया। इस मेले में टीकमगढ़ जिले और झांसी के कई गांवों से लोग पहुंचे। मुख्य अतिथि के रूप में बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के उपकुलपति अविनाश पाण्डेय ने मेले का उद्घाटन किया।
इस मेले में बुन्देलखण्ड के अलग-अलग जिलों से कई संस्थाओं ने आजीविका से जुड़े अपने काम का प्रदर्शन किया। इनमें चित्रकूट जिले की सामाजिक विकास संस्थान ने वैकल्पिक तरह से खाद बनाने के तरीके बताए। वहीं महोबा और मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में काम कर रही चेतना समाज सेवा संस्था ने घर में बनी खाद के नमूने दिखाए।
डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्ज़ द्वारा स्थापित की गई कागज़ की फैक्ट्री के कुछ उत्पादों को भी दिखाया गया। मुख्स अतिथि श्री पाण्डेय ने इन संस्थाओं के काम की सराहना करते हुए कहा कि यह काम बुन्देलखण्ड की संस्कृति और संदर्भ को दर्शाते हैं। समुदायों को अपने इन कामों को आगे बढ़ाना चाहिए और बाहरी दुनिया में इनका प्रचार करना चाहिए।
मेले में आए लोगों के मनोरंजन के लिए झांसी से बुन्देली गान करने आई टोली के गानों का लोगों ने आनंद उठाया।