एक कइत सरकार मद्द का दावा करत है दूसर कइत लाठी चार्ज

अपने खाली खेत को निहारता बुढ़ा किसान

उत्तर प्रदेश सरकार होय चाहै भारत सरकार एक कइत किसानन के व्यवस्था मा सुधार लावैं अउर उनके मद्द करै का बडे़ बड़े दावा करत है।
सूखे बुन्देलखण्ड के हालत देखैं का राहुल गांधी पद यात्रा कइके किसानन का दुख दर्द बाटैं के बात करत हैं, तौं दूसरे कइत प्रशासन के अधिकारी ही किसानन के ऊपर लाठी चार्ज करत हैं।
दैवीय आपदा अउर सूखा के मार से जूझ रहे बुनदेलखण्ड के किसानन अपनी मांगन का लइके बुन्देलखण्ड किसान यूनियन बहुतै लम्बे समय से आन्दोलन अउर समय समय मा धरना प्रदर्शन करत अउर अपनी मांगन का लइके राज्य अउर केन्द्र सरकार का ज्ञापन देत चले आवत हैं।
अइसैं ही कुछ समस्यन का लइके बुन्देलखण्ड किसानन यूनियन एक हप्ता पहिले बांदा जिला मा कचहरी के पास आमरण अनशन शुरू करिन रहैं। या अनशन के दसवें दिन देर रात गुजरैं के बाद नीद भरे किसानन के ऊपर शासन प्रशासन उनके समस्या का सुनै अउर मद्द करैं के जघा उनके ऊपर लाठी भांजिस अउर तम्बू उखाड़ के फेंक दिहिस प्रसाशन का या बरताव देख तौ साफ पता चलत है कि सरकार के कीन गे वादा केतना खरे उतरत हैं।