एक और सांसद ने की फ्लाइट में बदतमीजी, एयरलाइन्स ने उड़ान पर लगा दी रोक

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ टीडीपी के सांसद जेसी दिवाकर रेड्डी ने 15 जून को विशाखापट्टनम एयरपोर्ट पर जमकर हंगामा किया।

सांसद के इस व्यवहार पर पूर्व डीजीसीए कानू गोहेन ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि सिक्योरिटी के साथ खिलवाड़ करना बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि सांसदों को अपनी सीमाओं में रहना चाहिए।

वहीँ इस पूरे वाकये पर सांसद जेसी दिवाकर रेड्डी से जब एयरलाइन बैन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कुछ भी बोलने से इनकार करते हुए केवल ‘सॉरी’ कहा।

सूत्रों के अनुसार, देरी से पहुंचने पर सांसद को फ्लाइट पर जाने की इजाजत नहीं दी गई तो सांसद भड़क उठे और वहां तोड़फोड़ तक कर डाली। उन्हें बताया गया कि प्लेन छुटने के 45 मिनट पहले प्रवेश बंद कर दिया जाता है। यह सुनते ही टीडीपी सांसद भड़क गए और पास रखे प्रिंटर को उठाकर फेंक दिया। उन्होंने इंडिगो के स्टाफ के साथ बदसलूकी की और वहां रखे दूसरे सामान में भी तोड़फोड़ शुरू कर दी। हंगामे के बाद रेड्डी को उस विमान में जाने की इजाजत तो दे दी गई। लेकिन बाद में इंडिगो एयरलाइंस ने रेड्डी के अपने विमानों में यात्रा करने पर रोक लगा दी। इंडिगो के साथ ही एयर इंडिया, स्पाइस जेट और जेट एयरवेज ने भी रेड्डी को अपने विमानों में यात्रा करने से रोक दिया है।

बताया जाता है कि रेड्डी ने पिछले साल विजयवाड़ा के गंगावरम एयरपोर्ट भी हंगामा और तोड़फोड़ की थी।

गौरतलब है कि मार्च में शिवसेना सांसद रविंद्र गायकवाड ने एयर इंडिया के विमान में एक कर्मचारी के साथ मारपीट की थी। सांसद ने खुद बताया था कि उन्होंने चप्पल से कर्मचारी को पीटा है, जिसके बाद इस घटना को लेकर काफी बवाल हुआ था। सभी एयरलाइंस ने सांसद पर ट्रैवल बैन लगा दिया था।