एक और किसान की क़र्ज़ और गरीबी की वजह से मौत

जिला बाँदा, ब्लाक बिसंडा, आशा राम का पुरवा जुलाई 14 का हेंया का मोतीलाल प्रजापति फांसी लगा के आपन जान दई दिहिस है। वहिके ऊपर साहूकारन का कर्जा अउर दूसर लड़की के शादी करैै के चिंता सतावत रही है। मोतीलाल प्रजापति के लगे जमीन नहीं रहै। या कारन से वा बटाई के जमीन लइके खेती करत रहै अउर अपने परिवार वालेन का पेट भरत रहै। वहिके घर के हालत नीक नहीं रहै। या बात गांव के मड़ई बताइन है। मोतीलाल के अौरत राजकुमारी का कहब है कि तीन साल पहिले कीने रहेन। लड़की के शादी होय के बाद दूसर दिन उनका एक्सीडेंट होइगा रहै। अब दूसर लड़की के शादी करैं का है। पहिले से ही लगभग एक लाख रुपिया का कर्जा रहै।यहिसे उंई परेशान रहत रहै। 14 जुलाई का सुबेरे दिन मा आठ बजे हम लोग नहीं देख पायेन के क़बै उंई कमरा के भीतर घुस के फांसी लगा लिहिन है।जबै लड़की देखिन तौ रस्सी मा झूलत रहै।दुआरे मा कर्जा मांगै कउनौ नहीं आवा रहै। पता नहीं के केहिसे कर्जा लीने रहै। होई सकत है कि कउनौ रास्ता मा वहिसे कर्जा दें का कहिस होई। अगर मैं पूँछत रहौ तौ कहत रहै के तोहिका का करै का है। का तै कर्जा भर देइहै का। उनका या समय दूसर लड़की के शादी करै के चिंता रही है।
प्रधान के मनसवा बच्चा कुशवाहा का कहब है कि सरकार कइती से जउन मदद मिली।वा मोतीलाल प्रजापति के परिवार का दीन जई। तहसीलदार धीरेन्द्र आय रहै। उंई सर्वे कइके लइगें है। काहे से कि परिवार वालेन का सरकार से मदद के उम्मीद है।यहिसे उनके उम्मीद का जरूर पूर कीन जई।
तहसीलदार धीरेन्द्र का कहब है कि या बात सउहें आई है कि मोतीलाल प्रजापति गरीबी अउर परेशानी के कारन फांसी लगाइस है। अगर सरकार मुआवजा देई तौ जरूर दीन जई।
बिसंडा थाना के दरोगा अमान सिंह का कहब है कि लाश का पोस्ट मार्टम खातिर भेज दीन गा है।
20/07/2016 को प्रकाशित

एक और किसान की क़र्ज़ और गरीबी की वजह से मौत
बाँदा के बिसंडा ब्लॉक के आशा राम का पुरवा के मोतीलाल प्रजापति ने की आत्महत्या