उन्नाव में दलित लड़की को पेट्रोल डालकर जलाया

बारासगवर थानाक्षेत्र में अपनी साइकिल से बाजार जा रही दलित युवती को गांव के बाहर पेट्रोल डालकर फूंक देने का मामला सामने आया है.
युवती ने खुद को बचाने के लिए भागने की भी कोशिश की लेकिन रास्ते में ही गिरकर उसकी मौत हो गई। घटना को किसने और क्यों अंजाम दिया, इसके बारे में परिजन भी कुछ नहीं बता सके। देर रात आइजी सुजीत कुमार पांडेय ने मौके पर पहुंच परिवारीजन से पूछताछ की।
सथनी बालाखेड़ा गांव निवासी संकठा प्रसाद विमल की 18 वर्षीय पुत्री मोनी गुरुवार शाम पांच बजे साइकिल से टेढ़ा बाजार सब्जी खरीदने के लिए निकली थी। घर से 100 मीटर दूर कच्चे रास्ते पर पहुंचते ही अचानक पीछे से आए लोगों ने मोनी पर पेट्रोल उड़ेल कर आग लगा दी। जल रही मोनी जान बचाने को ट्यूबवेल की ओर भागी, वहीं शोर सुनकर पास के अस्पताल में मजदूरी कर रहा उसका भाई सूरज भी दौड़ा।जब तक वह पहुंचता उसकी मौत हो गई।
सूचना पर पहुंची पुलिस को एक पिपिया, माचिस की तीलियों का बंडल और चार पहिया वाहन के टायर के निशान मिले। अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।