उत्तर प्रदेश चुनाव 2017 का अंतिम चरण

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में प्रदेश के सात जिलों की 40 विधानसभा सीटों पर चुनाव हैं।
सातवें और अंतिम चरण में गाजीपुर, वाराणसी, जौनपुर, चंदौली, मिर्जापुर, भदोही तथा सोनभद्र जिलों की 40 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होगा। इस चरण में एक करोड़ 41 लाख 39 हजार 697 मतदाता अपने मताधिकारों का प्रयोग कर सकेंगे, जिसमें लगभग लगभग 76.62 लाख पुरष तथा करीब 64.76 लाख महिला मतदाता एवं 707 अन्य श्रेणी के मतदाता शामिल हैं। इस चरण के मतदान के लिए 8,682 मतदान केन्द्रों तथा 14,458 मतदान स्थलों की स्थापना की गई है।
राज्य के इन हिस्सों में अंतिम चरण के चुनावी अखाड़े में कई बाहुबलियों के दम-खम का इम्तहान होना है। कभी बनारस जिले का हिस्सा रहे चंदौली का सैयदराजा विधानसभा क्षेत्र इस बार खास बन गया है। बनारस की जेल में बंद बाहुबली बृजेश सिंह भले ही इस सीट से चुनाव मैदान में नहीं हैं, लेकिन उनका भतीजा सुशील सिंह यहां से भाजपा के उम्मीदवार हैं। सुशील के मुकाबले यहां के बाहुबली श्याम नरायण सिंह उर्फ विनीत सिंह हैं। वह फिलहाल झारखंड की जेल में बंद हैं। विनीत और बृजेश सिंह के बीच यहां हमेशा मुकाबला होता रहा है। सैयदराजा सीट पर सुशील के प्रचार की कमान बृजेश की पत्नी किरण सिंह ने संभाल रखी है।
इस बार मनोज सिंह सपा-कांग्रेस गठबंधन की तरफ से मैदान में हैं। पूर्वांचल के माफिया मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह भी जौनपुर जिले की मडियाहूं सीट से चुनाव लड़ रही हैं। 2012 के चुनाव में सीमा अपना दल के टिकट पर चुनाव लड़कर हार चुकी हैं। इस बार निषाद पार्टी और कृष्णा पटेल के अपना दल से उन्हें टिकट मिला है। सीमा सिंह को विधानसभा पहुंचाने के लिए मुन्ना बजरंगी ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।
सपा ने यहां से श्रद्धा यादव को टिकट दिया है, जबकि बसपा ने भोलानाथ शुक्ला को उम्मीदवार बनाया है।
भाजपा ने यह सीट अपने गठबंधन सहयोगी अपना दल को दे दी है, जिसकी उम्मीदवार लीना तिवारी मैदान में हैं।
इसके अलावा बाहुबली विजय मिश्र व धनंजय सिंह को भी निषाद पार्टी से टिकट मिला है। विजय मिश्र ज्ञानपुर से और धनंजय सिंह मल्हनी सीट से चुनाव मैदान में हैं।
सपा ने ज्ञानपुर से रामरती बिंद को टिकट दिया है, जबकि भाजपा की तरफ से महेंद्र कुमार बिंद उम्मीदवार हैं और बसपा ने राजेश कुमार यादव को टिकट दिया है। मल्हनी से धनंजय सिंह के मुकाबले सपा ने भी बाहुबली पारसनाथ यादव को टिकट दिया है, जबकि भाजपा से सतीश कुमार सिंह, और बसपा से विवेक यादव भी चुनाव मैदान में हैं।