इनतान होइ तौ कसत गुजर होइ

 तेजवा
तेजवा

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, गांव कोलमजरा। हिंया के रामविशाल के घर मा 6 दिसम्बर 2013 का चोरी होइगे हवै। यहिके दरखास 2013 का लिखाइगे, पै चोरी करैं वाले का कउनौ पता नहीं लाग हवै। यहै से वा हिंया-हुंवा भटकत फिरत हवै।
गांव के रामविशाल का कहब हवै कि रात के अपने घर मा सोवत रहेन। चार बदमाश आय। कमरा का दरवाजा खोलाइन। उंई तुरतै घर के भीतर घुस आय अउर पांच हजार रूपिया नगद अउर सोने का लाकेट समेत कइयौ सामान लइगें हवै। मोर बेटवा का मारिन हवैं। ऊपर से जान मारैं के धमकी देत रहैं। अगर इनतान चोरी होइहैं तौ कसत मड़ई आपन गृहस्थी बनइहैं। हमार तौ जियब मुश्किल होइगा हवै। थाना मा दरखास लिखावैं के बादौ कउनौ सुनवाई नहीं भे आय।
बरगढ़ थाना के दरोगा बारिज लाल का कहब हवै कि जांच चलत हवै। पता लागै मा कारवाही कीन जई।
जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गांव रानीपुर, मटिहा पुरवा। हिंया रहैं वाले तेजवा बताइस कि वहिके घर से पड़ोस मा रहैं वाला चन्द्रिका यादव 6 दिसम्बर 2013 का चार हजार रूपिया निकार लिहिस हवै। यहिके दरखास मानिकपुर थाना मा 7 दिसम्बर 2013 का लिखाइगे, पै कउनौ सुनवाई नहीं भे आय।
तेजवा का कहब हवै-“ मैं काम से घर के बाहर चला गयेंव रहौं। मोर नाती लाला घर मा रहै। वहिके उम्र पन्द्रह बरस के हवै। मोरे घर मा चन्द्रिका यादव आवा अउर नाती से पूंछिस कि तोर नाना कहां हवै। नाती कहिस कि नाना घर मा नहीं आय। चन्द्रिका यादव जबरजस्ती घर मा घुस आवा। नाती मना करिस कि मोरे घर मा न घुस। यहै से वा नाती का मारिस अउर चावल के टंकी से चार हजार रूपिया निकार के लइगा हवै। यहिके दरखास 7 दिसम्बर 2013 का मानिकपुर थाना मा लिखावैं के बादौ कउनौ सुनवाई नहीं भे आय।”
मानिकपुर थाना के बड़े दरोगा राजाराम का कहब हवै कि या मामला के जांच कइके कारवाही कीन जई।