इतनी गर्मी में जब पानी गिरे तो क्या दशा होती है? चित्रकूट जिले के कालूपुर में हो रहा है कुछ ऐसा…

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गांव कालूपुर पाही एक बाल्टी पानी भरे मा आधा घंटा का समय लागत हवै। तौ सोंचव हिंया पानी खातिर केत्ती हाहाकार मचत होइ। पतले पाइप लाइन के कारन हिंया पानी के समस्या दुइ महीना से हवै। जल संस्थान विभाग पानी के समस्या का हल करै का कहत बस हवै।
बुधुआ का कहब हवै कि पाइप लाइन से 1 -2 घंटा पानी डोरा जइसे निकलत हवै तौ हमें हैण्डपम्प से पानी भरे मा बहुतै देर लागत हवै तौ हमें हैण्डपम्प से पानी भरे जाये का पड़त हवै।
भास्कर प्रसाद शुक्ला बताइस कि हमार गांव मा पानी के छोट टंकी अउर पतला पाइप लाइन हवै। लगभग पांच सौ कनेक्शन हवै। कनेक्शन ज्यादा हवै पानी कम आवत हवै। यहिसे मोटर लगा के पानी भरे का पड़त हवै। साहसकलि बताइस कि नल समय से नहीं आवत आय।बिल छह महीना मा 353 रुपिया आवत हवै।
सुशील कुमार पांडे बताइस कि हम फिरी का बिल भरित हन पाइप लाइन वाला नल तौ लाग हवै पै हैण्डपम्प से पानी भरित हवै हमरे लगे येत्ता रुपिया नहीं आय कि फिरी का बिल जमा करी यहै कारन कनेक्शन कटवावे का सोचित हवैं।
प्रधान ओम प्रकाश भारद्वाज का कहब हवै कि जउन मड़इन का घर पहिले बना हवै उनके घरन बस मा पानी आवा हवै। गांव के रास्ता सकरा होय के कारन हुंवा हैन्डपम्प नहीं लाग आहीं। जल विभाग का कइयौ दरकी दरखास दीन गे हवैं।
जल संस्थान के सहायक अभियंता सुरेन्द्र चन्द्र का कहब हवै कि पाइप लाइन मा प्रेशर कम हवै हुंवा घर-घर मा टुल्लू लाग हवैं यहिके खिलाफ कारवाही कीन जई अउर पानी के समस्या खतम कीन जई।

रिपोर्टर- नाजनी रिजवी

08/05/2017 को प्रकाशित