इंदिरा आवास योजना के किश्तों के लिए चक्कर लगा रहे हैं बाँदा जिले के हुसैनपुर कला गाँव के निवासी

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, हुसैनपुर कला 2014 मा हेंया गांव के मड़इन इंदिरा आवास आये रहैं। जेहिमा इंदिरा आवास के एक क़िस्त 35 हजार के आयी है। दूसर क़िस्त खातिर मड़ई विभाग के चक्कर लगावत हैं। विभाग कहत है कि मड़इन के खाता मा गड़बड़ी रहि हैं।
संगीता अउर शकीला का कहब है कि पहिले क़िस्त का 35 हजार रुपिया आ गा रहै तौ वहिमा से आधा अधूरा घर बना हैं। दूसर क़िस्त खातिर बहुतै परेशानी उठावै का पड़त है। अधिकारिन के चक्कर लगावत-लगावत थक गये हन। महुंवा, नरैनी अउर बांदा सबैजघा गये हन, पै कत्तो हमार सुनवाई नहीं भे आय खुला घर पड़ा है रात के सोने नहीं मिलत आय कुत्ता, बिल्ली परेशान करत है। दरवाजा न होय के कारन बहुतै परेशानी होत है। सरकार हमे देखे नहीं आवत है कि हम केत्ती मजबूरी से खुले घर मा रहित हन।
राजकुमार अउर कामता का कहब है कि दूसर क़िस्त का रुपिया निकलावै खातिर अधिकारिन से कहित हन तौ अधिकारी 10-15 हजार घूंस मांगत हैं। तीन साल से अधिकारिन के चक्कर लगावत होइ गें है। पता नहीं हुंवा से रुपिया आवा है कि नहीं अधिकारी कहत है रुपिया आ गा हैं।
जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के लिपिक अब्दुल रसीद का कहब है कि मड़इन के खाता मा गड़बड़ी रहि है यहै कारन दूसर क़िस्त का रुपिया नहीं मिला आय। यहिके अबै जांच चलत हैं।

रिपोर्टर- गीता

Published on Feb 10, 2017