इंदिरा आवास योजना और टपकती छतों की दास्तां, अम्बेडकरनगर जिले के वीरसिंहपुर गांव की

जिला अम्बेडकरनगर, ब्लाक भीटी, गांव बीरसिंहपुर बरसात कै मौसम हुवय अउर आपके घर पै छत भी न डाली हुवय तौ आप कैसे रहिहै। ऐसे ही कुछ हालात से गुजरत अहैं अम्बेडकरनगर के बीरसिंहपुर गांव कै मनई।2015-16 मा इंद्रा आवास मिला रहा दीवाल तौ खड़ी होईगए लकिन अबही तक दुसरे क़िस्त कै पैसा नाय आय।जिला अम्बेडकरनगर, ब्लाक भीटी, गांव बीरसिंहपुर बरसात कै मौसम हुवय अउर आपके घर पै छत भी न डाली हुवय तौ आप कैसे रहिहै। ऐसे ही कुछ हालात से गुजरत अहैं अम्बेडकरनगर के बीरसिंहपुर गांव कै मनई।2015-16 मा इंद्रा आवास मिला रहा दीवाल तौ खड़ी होईगए लकिन अबही तक दुसरे क़िस्त कै पैसा नाय आय। अनीता कै कहब बाय की सत्तर हजार वाली कालोनी हमरे सास अवधराजी के नाम आय रही।दीवाल खड़ी होयगए लकिन दुसरे क़िस्त कै पैसा नाय आय।पहले नाम अवधराजी रहा बाद मा निर्वाचन कार्ड मा अवधी लिखके आय गलत नाम हुवय से पैसा रुकिगा।  अवधराजी कै कहब बाय अप्लिकेशन दियागा तौ अधिकारी आये अउर फोटो खीचके लै गये बोले दूसर खाता खोलवावा।बैंक मा पैसा रखा बाय। दुई महीना होयगा अबही तक आधार कार्ड अउर पासबुक मा नाम सही होइके नाय आय। अनीता कै कहब बाय कि जवन कुछ बना रहा उहौ बिगड़गा। हमार सारा सामान दूसरे के घर मा तीन साल से रखा बाय।जेकरे घर मा धरे हई उनहूँ कै छप्पर टपकाथै बक्सा मा पानी भरिके सारा कपडा गद्दा रजाई सब सरिगा। जानकी बताइन कि कई बार कई जगह अप्लिकेशन दिहन जेसे कालोनी कै पैसा आय जाय। पूर्व बीडीसी चार हजार रुपया घूस भी लिहिन कहीं जल्दी पैसा आय जाये लकिन आज तक पैसा नाय आय। रामप्रताप वर्मा पूर्व बीडीसी कै कहब बाय कि केवल दुई मनई कै पैसा रुका बाय। प्रधान सुरेन्द्र वर्मा कै कहब बाय की प्रयास कीन जात बाय जल्द से जल्द पैसा आय जाय।ब्लाक पै सूचना देहे हई कउने कारन से रुका बाय पता चलि जाय। श्रीपति यादव बीडियो कै कहब बाय कि कइयो विकास खंड मा कालोनी कै पैसा रुका बाय।कुछ तकनीकी फाल्ट बाय लिखापढ़ी हुवत बाय जैसे पैसा आये खाता मा भेजा जाये।

रिपोर्टर- प्रियंका

Published on Jul 31, 2017