इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट की पहली महिला निर्देशक बनी प्रोफ़ेसर नीलू

साभार: विकिपीडिया

केन्द्रीय मंत्रालय ने देश के दस आईआईएम के लिए निदेशकों का चयन कर लिया है। वर्षों बाद इसमें एक महिला का नाम है। जम्मू विश्वविद्यालय की प्रो नीलू रोहमित्रा को आईआईएम सिरमूर (हिमाचल प्रदेश) की आईआईएम निदेश चुना गया है।
उन्हें पांच वर्षों की अवधि के लिए चुना गया है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार बहुत वर्षों के बाद किसी महिला को आईआईएम निदेश के रूप में नियुक्त किया गया है। मौजूदा समय में प्रोफेसर नीलू जम्मू विवि के कठुआ कैंपस की इंचार्ज हैं। इस महत्वपूर्ण प्रशासनिक और अनुसंधान वाले क्षेत्र में उन्होंने 28 साल एक विशेषज्ञ और विद्वान की तरह काम किया है।
इससे पहले वह जम्मू विश्वविद्यालय के प्रबंधन की निदेशक बोर्ड में कार्यरत थी जहाँ उन्होंने बिजनेस स्कूल, डीन छात्रों के प्लेसमेंट और अध्ययन प्रबंधन के रूप में कार्य किया है। इसके अलावा वह सांस्कृतिक अनुसंधान और मानव संसाधन प्रबंधन (मानव संसाधन विकास मंत्री और (आईसीसीसीआर), जम्मू विश्वविद्यालय के लिए इंटरनेशनल सेंटर की संस्थापक निदेशक भी रही हैं।
उनका एक शानदार अकादमिक रिकॉर्ड रहा है जिसमें उन्होंने 5 स्वर्ण पदक के साथ प्रतिष्ठित पुरस्कार और फेलोशिप भी अर्जित की हैं। इसमें डॉक्टर राष्ट्रमंडल फैलोशिप (ब्रिटेन), अमेरिकी विदेश विभाग के Iइंटरनेशनल-एनएएल विजिटर लीडरशिप प्रोग्राम, यूएसईइऍफ़-फुलब्राइट फैलो (यूएसए) शामिल हैं।
प्रोफेसर नीलू ने कई अन्य गोल्ड मैडल लिए हैं जिनमें, राधाकृष्णन बेस्ट जम्मू स्वर्ण पदक के ग्रेजुएट यूनिवर्सिटी (1985) और जम्मू-कश्मीर बैंक बेस्ट वाणिज्य स्नातक जम्मू स्वर्ण पदक विश्वविद्यालय ‘(1985) आदि शामिल हैं।