आ गया शुक्रवार? चलो, मूवी देखने चले!

मॉनसून शूट-आउट
कलाकार: नवाज़ुद्दीन सिद्दिक्की, विजय वर्मा, नीरज काबी, तन्निष्ठा चैटर्जी
निर्देशक: अमित कुमार
जब नवाज़ हो मूवी में, तो गोली मारो! गैंग्स ऑफ़ वासीपुर को इस बात का श्रय या दोष दिया जा सकता है, लेकिन यह बात तो बॉलीवुड में तय हो गई है, की जब भी गुंडागर्दी, और बेझिझक गोली चलाने वाले किरदार को दर्शाना हो, तब नवाज़ुद्दीन को मूवी में ज़रुर ले!
जैसे की आपको मूवी के नाम से पता चल ही रहा होगा, इस फिल्म में भी है ‘गोलियों की रासलीला’! कहानी है एक आदर्शवादी पुलिस अफसर की, आदी (विजय वर्मा), जो ये सोचता है की किसी की जान लेने के फैसले को आप यूंही नहीं ले सकते हैं। एक केस की रिपोर्टिंग के दौरान, आदी टकरा जाता है शिवा (नवाज़) से, जिसपर पुलिस को शक है। और दोनों मुंबई की तेज़ बारिश में होते हैं आमने-सामने। आदी के पास पिस्तौल है, लेकिन शिव के पास नहीं। आदी निशाना साधते हुए, सोच में पड़ जाता है – ट्रिगर दबाऊ या नहीं?
इसी रंजिश को खुरेद्ती हुई मूवी आगे बढती है। उस पल में होता क्या है, ये जानने के लिए सिनेमा हॉल जाना होगा!