आ गया शुक्रवार? चलो, मूवी देखने चले!

फिरंगी
कलाकर: कपिल शर्मा, कुमुद मिश्रा, जमील खान, एडवर्ड सोंनेंब्लिक
निर्देशक: राजीव ढिंगरा
कहानी है उस भारत की जब देश पर अंग्रेजों का राज था। 1920’s की सदी में स्थित ये मूवी उस काल को याद करती है जब स्वतंत्रा की जंग धीर धीरे बढ़ रही थी, और अंग्रेजों से नफरत की भावना पूरे देश में लहर की तरह दौड़ने लगी थी।
ऐसे भारत में क्या अंग्रेजों के प्रति किसी भारतीय के मन में सकारात्मक भावना भी हो सकती है? देश के छोटे से गांव में रहने वाला एक युवक मंगा (कपिल शर्मा) है ऐसा ही एक भारतीय। “नालायक” और “बेवकूफ” कहलाये जाने वाला मंगे की ज़िन्दगी में तब बदलाव आता है जब उसे अंग्रेजी शासन में नौकरी मिल जाती है। वो भी उसके अनोखे कौशल की वजह से!
लेकिन मंगे को देश-द्रोही मानने वाले लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है, और अंग्रेजों के लिए हमदर्दी या उनके नज़रिए को समझने की क्षमता किसी में नहीं। ऐसे में उसे “फिरंगी” करार दिया जाता है, और फिर आगे वो किस तरह अपने गांव वालों, अपनी प्रेमिका, को मनाता है, ये फिल्म में देख सकते हैं।
कपिल शर्मा के फैंस के अलावा, ये फिल्म वो सभी देख सकते हैं जिनको इतिहास के अलग पहलू से रूबरू होना पसंद है।