आशा पांच मांगन का लइके दिहिन ज्ञापन

चित्रकूट जिला के ढाई सौ आशा कार्यकर्ता 29 सितम्बर 2014 का आपन मांग पूर करैं खातिर कर्वी के पटेल चैराहा हाईवे मा जाम लगाइन। यहिके बाद कर्वी तहसीलदार भगवान दास गुप्ता का मुख्यमंत्री के लगे भेजै खातिर ज्ञापन दिहिन। यहिके पहिले भी कर्वी मा 22 फरवरी 2014 का रैली अउर 16 जनवरी 2014 का दिल्ली मा धरना प्रदर्शन करिन रहै, पै आशा के समस्या का खतम नहीं कीन गा।
ब्लाक मानिकपुर, कस्बा मानिकपुर। हिंया के आशा जिला अध्यक्ष वंदना पाण्डेय का कहब हवै कि सरकार सन् 2006 से आशा के भर्ती करिस रहै। हमका एक औरत के बच्चा पैदा करावै मा दुइ सौ रुपिया मिलत हवै। एक केस मा तीन दिन तक लाग जात हवंै। अस्पताल मा आशा का रुकैं के व्यवस्था भी नहीं रहत हवै। यहै से मांग करित हन कि वेतन पांच हजार रुपिया, आश का ड्रेस अउर मोबाइल, दवाई, किट अउर अस्पताल मा आशा का रुकैं के व्यवस्था होब जरुरी हवै। यहै से राज्य स्तर मा रैली अउर . धरना प्रदर्शन कीने रहेन। अब यहिके बाद 15 अक्टूबर 2014 का दिल्ली मा धरना प्रदर्शन करबे।
ब्लाक पहाड़ी, कस्बा पहाड़ी के आशा सुनीता कहिस कि औरतन के बच्चा पैदा होय के बयालिस दिन तक विजिट प्रोफार्म भरा जात हवै। वहिका ढाई सौ रुपिया मिलत हवै तौ वा रुपिया सत्रह महीना से नहीे मिला हवै। यहिके साथै वेतन पांच हजार रुपिया मिलै नहीं तौ यहिनतान रैली अउर धरना प्रदर्शन करबे। कर्वी तहसीलदार भगवानदास गुप्ता का कहब हवै कि ज्ञापन लइ लीन गा हवै। आशा का ज्ञापन मुख्यमंत्री का फैक्स कइ दीन गा हवै। जिला अपर सी.एम.ओ. रामबहादुर सिंह का कहब हवै कि केन्द्र सरकार आशा के मांग पूरी करी। आशा का ज्ञापन सरकार का पहंुचा दीन गा हवै। वेतन बढ़ावैं का काम भी केन्द्र सरकार करी।

आशा के मांगै इनतान
1- आशा का विजिट प्रोफार्मा का रुपिया सत्रह महीना से नहीं मिला आय। वा दीन जाये।
2-जुलाई 2013 से आई.डी.नम्बर न मिलै मा 600 रुपिया के जघा मा बस 300 रुपिया मिलत हवै। 600 रूपिया पूर दीन जाये।
3-महंगाई अउर काम के हिसाब से आशा का 5000 रुपिया हर महीना मानदेय मिलै।
4- आशा का ड्रेस के सुविधा मिलै।
5-मोबाइल अउर किट भी मिलै।